Contact Style About

DNA तथा RNA में अंतर – DNA Aur RNA Mein Antar Bataiye

By ATUL

इस लेख में DNA और RNA के बारे में और डीएनए और आरएनए में अंतर क्या है? बहुत ही सरल भाषा में लिखा गया है जो परीक्षा की दृष्टि से बहुत ही उपयोगी है।

DNA: DNA एक डीऑक्सीराइबोन्यूक्लिक अम्ल हैं। DNA एक ऐसे बहुलक यौगिक है जिसमे बार – बार एक – दूसरे से जुड़कर बहुर बड़ा अणु बना लेते है। DNA में एकलक इकाई न्यूक्लिओटाइड होती है। डीएनए एक न्यूक्लिओटाइड स्वयं जटिल कार्बनिक अणु है जो तीन छोटे अणुओ के जुड़ने से बनता है।

  1. डीऑक्सीराइबोस शर्करा
  2. फॉस्फोरिक अम्ल (H3PO4)
  3. निम्नलिखित चार नाइट्रोजन क्षार होते है
    • यूरिन क्षार
      • ऐडीनीन (A)
      • ग्वानीन (G)
    • पिरिमीडीन क्षार
      • थाइमीन (T)
      • साइटोसीन (C)

DNA का पूरा नाम डीऑक्सीराइबोन्यूक्लिक अम्ल (Deoxyribonucleic acid) हैं।

DNA की खोज किसने की थी?

DNA की खोज जेम्स वॉटसन और फ्रान्सिस क्रिक नामक वैज्ञानिको ने की हैं।

RNA: RNA एक राइबोन्यूक्लिक अम्ल है यह अम्ल अधिक अणुभार वाली पाॅलीन्यूक्लिओटाइड श्रृंखला है यह DNA से इस प्रकार भिन्न होती है इसके अंदर राइबोस शर्करा होती है तथा पिरिमीडीन मेथाइमीन के स्थान पर यूरेसिल होता है तथा इनके न्यूक्लिओटाइड ‘राइबोटाइड’ कहलाते है।

RNA का पूरा नाम राइबोन्यूक्लिक अम्ल (Ribonucleic acid) हैं।

RNA की खोज किसने की थी?

RNA की खोज वाट्सन एवं अर्ग नामक वैज्ञानिको ने की है।

डीएनए और आरएनए में अंतर – DNA Aur RNA Mein Antar

डीएनए (DNA) और आरएनए (RNA) में निम्नलिखित अंतर इस प्रकार है:

क्रमांकDNARNA
1.ये डिऑक्सी राइबोस शर्करा होती है।ये राइबोस शर्करा होती है।
2.DNA अणु में फॉस्फोरिक अम्ल होता है जो शर्करा के एक अणु को दूसरे अणु से फॉस्फोडाई एस्टर बन्ध द्वारा जोड़ता है।DNA के समान ही होता है।
3.निम्नलिखित नाइट्रोजन क्षार होते है –
(a) प्यूरिन्स (एडीनीन व ग्वानीन)
(b) पिरीमिडीन्स (साइटोसीन व थाइमीन)
निम्नलिखित नाइट्रोजन क्षार होते है –
(a) प्यूरिन्स (ऐडीनीन व ग्वानीन)
(b) पिरीमिडीन्स (साइटोसीन व यूरोसिल)
4.DNA अणु में प्राय: दो लम्बे सूत्रो की लम्बी कुण्डली होती है जिससे बहुत से न्यूक्लि ओटाइड्स के जोड़े क्रम में लंगे होते है।अणु में बहुत से न्यूक्लिओटाइड का बना एक लम्बा सूत्र होता है।
5.यह गुणसूत्र, केन्द्रक, केन्द्रकद्रव्य, माइटोकॉण्ड्रिया तथा हरितलवक में पाया जाता है।यह केन्द्रिका, केन्द्रक द्रव्य में स्वतन्त्र रूप से तथा अनेक कोशिकाओं में पाया जाता है।
6.अणु बहुत बड़े हजारो – लाखो न्यूक्लिओटाइड एकलको के बने होते हैअणु काफी छोटे 70 से 12000 तक न्यूक्लिओटाइड एकलको के बने होते है
7.उत्परिवर्तन अर्थात् आनुवंशिक रासायनिक परिवर्तन होते हैउत्परिवर्तन अर्थात् आनुवंशिक रासायनिक परिवर्तन नहीं होते है
8.आनुवंशिक लक्षणों की संकेत सूचनाओ को संचित रखकर पीढ़ी – दर – पीढ़ी इनका प्रसारण करनाजीन्स की संकेत सूचनाओ के अनुसार, लक्षणों के विकास हेतु आवश्यक प्रोटीन्स का संश्लेषण करवाना
9.सारे अणु पहले से उपस्थित अणुओं के द्विगुणन द्वारा बनते है सारे अणु DNA के जींस पर लिप्यन्तरण द्वारा संश्लेषित होते है
10.कोशिकाओं में DNA की कुल मात्रा कम, परन्तु जाति के अनुसार स्थाई होती है। कोशिकाओं में RNA की कुल मात्रा DNA से प्राय: 8 गुना अधिक, परन्तु जाति के अनुसार स्थाई नहीं होती है।

इस लेख में हमने DNA और RNA के बारे में, DNA और RNA की खोज किसने की थी? और DNA Aur RNA Mein Antar क्या है यह जाना अगर आपको यह लेख पसंद आयी हो तो सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें।

About the author

coming soon

Leave a Comment