गद्य और पद्य में अंतर क्या है?

इस आर्टिकल में हम गद्य और पद्य (काव्य) साहित्य में अंतर क्या है? इसके बारे में जानकारी प्राप्त करेगे। हिंदी साहित्य को दो भागो में बाँटा गया है – गद्य क्या है? जो विचारपूर्ण एवं वाक्यबध्द रचना छन्द, ताल, लय एवं तुकबन्दी के बन्धन से मुक्त हो ‘गद्य‘ कहलाती है| पद्य (काव्य) क्या है? पद्य (काव्य) उस छन्दोबध्द … Read more

मित्रता पाठ का सारांश अपने शब्दों में लिखिए।

नमस्कार दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम जानेगें आचार्य रामचंद्र शुक्ल द्वारा लिखे गए मित्रता पाठ का सारांश (Mitrata Path Ka Saransh) कैसे लिखा जाता हैं। इससे पहले हमने आचार्य रामचंद्र शुक्ल का जीवन परिचय के बारे में पढ़ चुके हैं नीचे मित्रता पाठ का सारांश लिख गया हैं प्रश्न: मित्रता पाठ का सारांश अपने … Read more

Tulsidas Ji Ke Dohe – तुलसीदास जी के दोहे संदर्भ, प्रंसग, व्याख्या, काव्य सौन्दर्य सहित

Tulsidas Ji Ke Dohe

इस आर्टिकल में हम Tulsidas Ji Ke Dohe (तुलसीदास जी के दोहे) पढेंगे, तो चलिए विस्तार से पढ़ते हैं तुलसीदास जी के दोहे संदर्भ, प्रंसग, व्याख्या, काव्य सौन्दर्य सहित – बहुत ही सरल भाषा में लिखा गया है जो परीक्षा की दृष्टि से बहुत ही उपयोगी है। सबसे पहले हम तुलसीदास जी के बारे में जान लेते है : गोस्वामी … Read more

लड़का – लड़की एक समान पर निबंध

लड़का - लड़की एक समान पर निबंध

आज के इस लेख में लड़का – लड़की एक समान अथवा बेटा बेटी एक समान पर निबंध बहुत ही सरल और सुव्यवस्थित हिन्दी भाषा में क्रमबद्ध तरीके से लिखा गया है जो परीक्षा की दृष्टि से बहुत ही उपयोगी है। लड़का – लड़की एक समान पर निबंध रुपरेखा- “लड़का – लड़की एक समानदोनों से ही घर की शान“ 1.प्रस्तावना … Read more

रामधारी सिंह दिनकर का साहित्यिक परिचय लिखिए?

प्रश्न: रामधारी सिंह दिनकर का साहित्यिक परिचय लिखिए? उत्तर: राष्ट्रकवि रामधारीसिंह दिनकर जी को हिंदी साहित्य जगत के कवियों में प्रथम स्थान प्राप्त है। राष्ट्रीय भावनाओं से ओतप्रोत उनकी कविताओं में प्रगतिवादी स्वर मुखरित हैं जिनमें उन्होंने शोषण का विरोध करते हुए मानवतावादी मूल्यों का समर्थन किया है। दिनकर जी की रचनाओ में जो वास्तविकता … Read more