Contact Style About

National Youth Day 2024: राष्ट्रीय युवा दिवस क्यों मनाया जाता है?

By ATUL

National Youth Day in Hindi: राष्ट्रीय युवा दिवस भारत में हर साल 12 जनवरी को मनाया जाता है। यह दिन स्वामी विवेकानंद की जन्म तिथि है और उन्हें युवा और शिक्षा के अद्वितीय प्रचारक के रूप में माना जाता है। स्वामी विवेकानंद ने विश्व भर में युवा शक्ति की महत्वपूर्ण भूमिका को उजागर किया और उन्होंने युवा पीढ़ी को समर्पित, सकारात्मक, और समर्थ नागरिक बनने के लिए प्रेरित किया।

National Youth Day in hindi, राष्ट्रीय युवा दिवस क्यों मनाया जाता है?
National Youth Day in Hindi: राष्ट्रीय युवा दिवस क्यों मनाया जाता है?

राष्ट्रीय युवा दिवस क्यों मनाया जाता है?

राष्ट्रीय युवा दिवस हर साल 12 जनवरी को मनाया जाता है। क्योकि इस दिन स्वामी विवेकानंद जी का जन्म हुआ था। स्वामी विवेकानंद एक महान आध्यात्मिक गुरु, दार्शनिक और समाज सुधारक थे। उनके विचार और आदर्श आज भी युवाओं के लिए प्रेरणास्त्रोत हैं।

राष्ट्रीय युवा दिवस का इतिहास

भारत में राष्ट्रीय युवा दिवस मनाने की शुरुआत 1985 में हुई थी। उस समय भारत सरकार ने संयुक्त राष्ट्र संघ के निर्णयानुसार 1984 को “अंतरराष्ट्रीय युवा वर्ष” घोषित किया था। इस अवसर पर भारत सरकार ने 12 जनवरी को स्वामी विवेकानंद की जयंती को राष्ट्रीय युवा दिवस (National Youth Day) के रूप में मनाने का निर्णय लिया। स्वामी विवेकानंद एक महान आध्यात्मिक गुरु, दार्शनिक और समाज सुधारक थे। उनके विचार और आदर्श आज भी युवाओं के लिए प्रेरणास्त्रोत हैं।

राष्ट्रीय युवा दिवस (नेशनल यूथ डे) के माध्यम से समाज को युवा जनसंख्या के महत्व को समझने और उसे सकारात्मक दिशा में मोड़ने का संदेश मिलता है। इस दिन विभिन्न स्कूल, कॉलेज, और सामाजिक संगठन आयोजन करते हैं जिनमें युवा लोगों को समर्पण, सेवा, और नेतृत्व की महत्वपूर्ण बातें सिखाई जाती हैं।

राष्ट्रीय युवा दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

राष्ट्रीय युवा दिवस की थीम

  • राष्ट्रीय युवा दिवस 2023 की थीम: विकसित युवा विकसित भारत
  • राष्ट्रीय युवा दिवस 2024 की थीम: “Its All In The Mind” जिसका हिंदी में अर्थ है सब कुछ आपके दिमाग में है। 

स्वामी विवेकानंद के बारे में (संक्षिप्त जीवन परिचय)

  • स्वामी विवेकानन्द जी का जन्म 12 जनवरी सन् 1863 को कोलकाता में हुआ था।
  • स्वामी विवेकानंद जी के पिता का नाम विश्वनाथ दत्त था। जो एक वकील थे। तथा उनकी माता का नाम श्रीमती भुनेश्वरी देवी था।
  • स्वामी विवेकानंद जी के बचपन का नाम नरेंद्रनाथ दत्त था।
  • स्वामी विवेकानंद जी के गुरु का नाम श्री रामकृष्ण परमहंस था।
  • स्वामी विवेकानंद जी की जयंती हर साल 12 जनवरी को मनायी जाती है तथा हम सब इनकी जयंती को राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाते हैं।
  • स्वामी विवेकानंद जी ने रामकृष्ण मिशन की स्थापना 1 मई 1897 में की थी
  • स्वामी विवेकानंद जी ने अपने जीवन की अंतिम सांस बेलूर में ली थी। इनका निधन 4 जुलाई 1902 में हुआ था।

स्वामी विवेकानंद के अनमोल वचन

उठो, जागो और तब तक नहीं रुको
जब तक लक्ष्य प्राप्त ना हो जाए।

ख़ुद को कमज़ोर समझना सबसे बड़ा पाप है।

सत्य को हज़ार तरीकों से बताया जा सकता है, फिर भी हर एक सत्य ही होगा।

तुम्हें कोई पढ़ा नहीं सकता, कोई आध्यात्मिक नहीं बना सकता। तुमको सब कुछ खुद अंदर से सीखना है। आत्मा से अच्छा कोई शिक्षक नही है।

किसी दिन, जब आपके सामने कोई समस्या ना आए-आप सुनिश्चित हो सकते हैं कि आप गलत मार्ग पर चल रहे हैं।

अब आप जान चुके होगे कि National Youth Day 2024: राष्ट्रीय युवा दिवस क्यों मनाया जाता है?, राष्ट्रीय युवा दिवस का इतिहास क्या है, राष्ट्रीय युवा दिवस की थीम क्या है, स्वामी विवेकानंद जी के बारे में संक्षिप्त जीवन परिचय और उनके अनमोल वचन क्या है।

FAQs Answered

प्रश्न: राष्ट्रीय युवा दिवस कब मनाया जाता है

उत्तर: राष्ट्रीय युवा दिवस हर साल 12 जनवरी को मनाया जाता है।

प्रश्न: राष्ट्रीय युवा दिवस किस महापुरुष की जयंती के रूप में मनाया जाता है

उत्तर: स्वामी विवेकानंद

अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो आप कृपया करके इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें। अगर आपका कोई सवाल या सुझाव है तो आप नीचे दिए गए Comment Box में जरुर लिखे।

About the author

coming soon

Leave a Comment